ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
बच्चों ने प्रस्तुत किया कार्यक्रम
January 11, 2020 • Tariq • शिक्षा

 

 

 

बच्चों को किया गया पुरस्कृत


शिवगढ़(रायबरेली) शिवगढ़ क्षेत्र में भारत लोक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित एकल विद्यालय के तहत के शिवली,बैंती, जयचंदपुर, तरौजा,खजुरों,देहली,कसना, सीवन, राजापुर, सहित कुल 30 एकल विद्यालय संचालित हैं। आचार्या बहने अपने घर पर अथवा सार्वजनिक स्थलों पर 6 से 14 वर्ष के बच्चों को संस्कार युक्त शिक्षा देकर संस्कार युक्त राष्ट्र का निर्माण कर रही हैं। विदित हो कि एकल विद्यालय अभियान की शुरुआत 1988 में झारखंड के गुमला नामक ब्लॉक के रतनपुर गांव से हुई थी। जिसकी शुरुआत 60 विद्यालयों से हुई थी। एकल विद्यालय शिवली में आचार्या अनीता देवी विद्यालय में उपस्थित 30 से अधिक बच्चों को महापुरुषों की कहानियों के माध्यम से संस्कार युक्त शिक्षा देती मिली। बच्चों के अभिभावकों ने बताया कि जब से बच्चे एकल विद्यालय में जाने लगे हैं बच्चों का मानसिक विकास तीव्र गति से हो रहा है। शिवली ग्रामसभा में एकल विद्यालय द्वारा आज सुबह 8:30 बजे नन्हें मुन्ने बच्चों ने प्रभात फेरी निकाली। शुक्रवार सुबह प्रभात फेरी से संदेश दिया कि गांव-गांव में आ गया  है यह एकल अभियान संस्कारों की शिक्षा को जन-जन तक पहुंचायेगें, संस्कार के लिए जियेगें संस्कार के लिए मरेगें, यह संकल्प हमारा है आचार्या अनीता देवी नन्हे मुन्ने बच्चे अनस , अलफेज, इकरा बानो, प्रियांसी,महक,अशिंका, अनिकेत, अनंत (कृष्णा), सुधांशु,मेयसर, निशा,फाइजान,साक्षी, दर्जनों बच्चों ने हिस्सा लिया।

मनीष श्रीवास्तव की रिपोर्ट