ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
भले ही भाजपा बसों पर अपने बैनर व पोस्टर लगवा ले लेकिन हमारा सेवा भाव न ठुकराए-प्रियंका गांधी
May 19, 2020 • Team janadhikar • उत्तरप्रदेश

-प्रियंका ने कहा कि इस राजनीतिक खिलवाड़ में तीन दिन व्यर्थ हो गए हैं और इन तीन दिनों में हमारे देश की जनता सड़कों पर चलते हुए दम तोड़ रही है–

-प्रियंका-यूपी सरकार का खुद का बयान है कि हमारी 879 बसें जाँच में सही पायीं गईं, कृपया इन 879 बसों को तो चलने दीजिए–

लखनऊ, 19 मई 2020, यूपी में इस समय बसों की सियासत चल रही है। कांग्रेस की ओर से प्रवासी श्रमिकों के लिए मदद की गुहार लगाई गई। योगी सरकार से कांग्रेस पार्टी की यूपी महासचिव प्रियंका गांधी ने 1000 बसों की सेवा देने की पेशकश की। इस पेशकश को योगी सरकार ने स्वीकार तो कर लिया लेकिन इसके बाद शुरू हो गई लेटर वॉर। एक के बाद एक पत्राचार होता रहा लेकिन कांग्रेस की बसें नहीं चल पार्इं। इन सबके बीच कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा यूपी सरकार से बसे चलाने के लिए अनुमति लेने में तीन दिन व्यर्थ हो गए हैं। भाजपा चाहे तो इन बसों पर अपने बैनर व पोस्टर लगवा ले लेकिन हमारा सेवाभाव न ठुकराए। उन्होंने कहा कि इन तीन दिनों में सड़कों पर चलते हुए हमारे देशवासी दम तोड़ रहे हैं।
 उधर बसों के साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू सड़क पर पुलिसकर्मियों से बहस करते हुए नजर आ रहे हैं। कांग्रेस का दावा है कि 1000 बसें चलने के लिए तैयार हैं लेकिन यूपी सरकार राजनीति कर रही है।

दम तोड़ रहे हैं लोग..

प्रियंका ने कहा कि इस राजनीतिक खिलवाड़ में तीन दिन व्यर्थ हो गए हैं और इन तीन दिनों में हमारे देश की जनता सड़कों पर चलते हुए दम तोड़ रही है, यूपी सरकार का खुद का बयान है कि हमारी 1049 बसों में से 879 बसें जाँच में सही पायीं गईं। ऊँचा नागला बॉर्डर पर आपके प्रशासन ने हमारी 500 बसों से ज्यादा बसों को घंटों से रोक रखा है। इधर दिल्ली बॉर्डर पर भी 300 से ज्यादा बसें पहुँच रही हैं। कृपया इन 879 बसों को तो चलने दीजिए।

नोयडा गाजियाबाद और आगरा राजस्थान सीमा पर कुल 1300 बसें तैयार..

यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय लल्लू जब बसों के काफिले के साथ यूपी सीमा पर पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें रोक दिया। कांग्रेस पार्टी ने कहा कि बसों को आगे जाने नहीं दिया जा रहा है। शासन-प्रशासन मनमानी कर रहे हैं। लगातार विनती करने के बाद भी श्रमिकों के लिए बसें नहीं चलने दे रहे। विरोध करने पर सरकार के निर्देश पर यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय लल्लू को पुलिस ने हिरासत में ले लिया जबकि योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कांफ्रेंस में दावा किया था कि वो कांग्रेस को बसें चलाने की अनुमति दे रहे हैं। कांग्रेस पार्टी ने बसों के वीडियो डालकर इसका सबूत भी दिया है।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी