ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
BJP विधायक केतन इनामदार ने दिया इस्तीफा, कहा- सरकार हमारी बात नहीं सुनती
January 23, 2020 • Tariq • राष्ट्रीय

 

BJP विधायक केतन इनामदार ने दिया इस्तीफा, कहा- सरकार हमारी बात नहीं सुनती।

वडोदरा। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक केतन इनामदार ने इस्तीफा दे दिया है। इनामदार ने बुधवार को अपना इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष को सौंपा है। बता दें कि इनामदार ने इस्तीफे के लिए रूपाणी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और मंत्रियों ने उन्हें और उनके चुनाव क्षेत्र की उपेक्षा की। इनामदार ने यह भी दावा किया कि बीजेपी में बहुत से विधायक उनकी तरह हताश हैं।
अपने इस्तीफे में लिखी ये बात
बीजेपी विधायक केतन इनामदार ने अपना इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे में उन्होंने लिखा, 'मेरे विधानसभा क्षेत्र के लोगों की जो मांग थी, उसे सरकार और प्रशासन के सामने रखा था।
मगर सरकार और बाबुओं के ढीले रवैये के कारण जनता के प्रतिनिधि के तौर पर विधायक के पद से अपना इस्तीफा देता हूं। सरकारी अधिकारी जन प्रतिनिधि का मान-सम्मान नहीं रखते हैं।' केतन इनामदार के इस्तीफे से बीजेपी अब 103 सीट से 102 सीट पर आ गई है। अप्रैल में राज्यसभा चुनाव होना है और चुनाव से पहले इस इस्तीफे को बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है।
बीजेपी नेता बोले- इनामदार से बात करके मनाएंगे
केतन भाई ने यह भी कहा है कि उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दिया है, जबकि वे बीजेपी के कार्यकर्ता के तौर पर बने रहेंगे। इसी बीच कांग्रेस ने इनामदार को विपक्षी दल में शामिल होने का न्योता दिया है। हालांकि बीजेपी नेताओं को विश्वास है कि वह इनामदार को इस्तीफा वापस लेने के लिए मना लेगी। आपको बता दें कि इनामदार को सावली विधानसभा से 2012 में निर्दलीय चुना गया था, बाद में वह बीजेपी में शामिल हो गए थे। इनामदार 2017 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के खुमानसिंह चौहान को हराकर बीजेपी के टिकट पर दोबारा चुनकर आए थे।

त्रिलोकी नाथ की रिपोर्ट