ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
द इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया की शाखा ने किया वेबिनार का आयोजन
April 30, 2020 • Team janadhikar • उत्तरप्रदेश

 

द इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया की शाखा ने किया वेबिनार का आयोजन

आगरा। द इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ़ इंडिया की आगरा शाखा द्रारा सीए सदस्यों एवं छात्रों के लिए दिनांक 29 अप्रैल 2020 को प्रातः 10 बजे से लाइव वेबिनार का प्रसारण आगरा ब्रांच ऑफ़ सी आई आर सी के यू टियूब चेंनल आगरा ब्रांच ऑफ़ आई सी ए आई (AGRA BRANCH OF ICAI) पर किया गया ।
लाइव वेबिनार का मुख्य मुख्य विषय Impact of COVID 19 & Opportunities for Indian Economy & Miracle of Positive Thoughts रहा । 
लाइव वेबिनार में मुख्य अतिथि सी आई आर सी के अध्यक्ष सीए देवेंद्र सोमानी विशिष्ट अतिथि सी आई आर सी के सचिव दिनेश जैन जी के साथ आगरा शाखा अध्यक्ष सीए शरद पालीवाल सचिव सीए गौरव बांसल  आगरा सिकासा अध्यक्षा सीए दीपिका मित्तल एवं मथुरा शाखा के अध्यक्ष सीए जीतेन्द्र चतुर्वेदी जी मौजूद रहे ।
लाइव वेबिनार का संचालन शाखा सचिव सीए गौरव बंसल द्रारा  किया गया ।
लाइव वेबिनार में सर्वप्रथम वक्ता सीए प्रेम गुल जे अपने विषय Impact of COVID 19 & Opportunities for Indian Economy पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जहा विश्व में कोविड से  दुख व्याप्त है वहीँ हमें उम्मीद है डॉ और साइंटिस्ट कुछ ही समय में इसका इलाज ढूंढ लेंगे और इस महामारी से निजात दिलाएंगे । पर ये महामारी अपने पीछे कई आर्थिक बेहाली का माहौल छोड़ जाएगी छोड़ जाएगी ।  जिससे निपटने की तैयारी व्यक्ति एवं सरकार को अभी से शरू कर लेनी चाहिए ।  
प्रेम गुल जी ने बतया कि यह जो स्थिति पैदा हुई है वह भारत के लिए कुछ लाभ भी लेकर आएगी जो भारत सरकार का ५ ट्रिलियन का इकॉनमी का लक्ष्य है उसको पाने में मद्ददगार होगी ।
ऐसे उम्मीद की जा रही है भारत की अर्थवयवस्था १ % से २% जीडीपी ग्रोथ होगी । तथा भारत चाहे तो अपनी वित्त नीतियां राजस्व नीतियां भूमि अधिग्रहण नीतियां तथा फॉरेन पोलकी में वदलाव करके विदेशी व्यापारियों को हिंदुस्तान में व्यापार करने के लिए आमंत्रण दे सकती  है । इसी तकीके से सरकार को और नागरिकों को  सिर्फ  तैयारी करनी है की वो किस प्रकार से विश्व में आर्थिक स्तिथि बन कर उभर सकते हैं एवं इस महामारी का किस प्रकार लाभ उठा सकते हैं ।
इसके पश्च्यात वेबिनार के दूसरे सत्र में  के विषय Miracle of Positive Thoughts पर भ्रम कुमारी संस्थान माउंट अबू से सूरज भाई जी व् रुपेश भाई जी द्रवारा उपरोक्त विषय पर सीए सदस्यों एवं छात्रों का मार्ग दर्शन किया गया ।
रुपेश भाई जीने कहा कि संसार परिवर्तन शील है लेकिन हमारा अंतरमन स्थिर है वो परिवर्तनशील  न रहे । वहां हम पोजिटिवि बनाये रहें तो बाकी जगत को नियंत्रित करना बहुत आसान एवं सहज हो जाता है ।
उन्होंने कहा की वेद पुराणों के अनुसार परमातना ने एक संकल्प से सृस्टि की संरचना की जब एक संकल्प से सारी सृस्टि की संरचना हो सकती है तो हम अपने एक संकल्प से अपने जीवन रूपी निर्माण तो कर ही सकते हैं ।
उन्होंने कहा की हमारे विचार हमारे शब्द का निर्माण करते हैं , हमारे शब्द हमारे कर्म का रूप लेते हैं , हमारे कर्म हमारी आदतें बन जाती हैं , और हमारी आदतें हमारे चरित्र के रूप में सभी देखतें हैं । और जैसा हमारा चरित्र होता है वैसा हमारा भाग्य बन जाता है । तो यदि हम ध्यान से देखें तो हमारे विचार ही आते हैं । यदि इन विचारों में कहीं भी नकारत्मकता है तो हमारा भाग्य भी धूमिल अंधकारमय दिखने लगता है ।
और एक सर्वे के अनुसार 70 % व्यक्ति फेस थिंकिंग करते हैं । व्यर्थ में ही उनके विचार चलते रहते हैं ।
इसके पश्च्यात  भ्रम कुमारी संस्थान माउंट अबू से सूरज भाई जी ने कहा कि आजकल पोजटिव विचारों की परम आव्य्श्यकता है । इसके बिना हम जी नहीं सकते
   मनुष्य मात्र 1% पॉजिटिव विचारों के साथ ही जीवन यापन कर रहा है और ९०% निगेटिव सोच के साथ जीना उसके जीवन को अंधकार में ले जायेगा ।  उन्होंने कहा कि हमारा पॉजिटिव सोचना ही हमारे उज्जवल भविष्य का निर्माण करेगा ।
लाइव वेबिनार के दौरान शाखा उपाध्यक्ष सीए आशीष जैन , कोषाध्यक्ष सीए सौरभ नारायण सक्सेना कार्यकारिणी सदस्य सीए सुदीप कुमार जैन एवं सीए राकेश अग्रवाल भी मौजूद रहे ।  

नितिन कुमार शुक्ला