ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
दो महीनों से लापता युवक का बहता हुआ शव गोमती नदी में मिला, परिजनों ने जताया हत्या का शक
March 19, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

दो महीनों से लापता युवक का बहता हुआ शव गोमती नदी में मिला, परिजनों ने जताया हत्या का शक

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव बाहर निकालकर पोस्टमार्टम को भेजवाया, लखनऊ के माल थाने में 21 जनवरी को गुमशुदगी दर्ज कराई थी

लखनऊ, 19 मार्च 2020, लखनऊ के माल थानाक्षेत्र में 58 दिन पहले तगादा करने की बात कहकर घर से निकले 24 वर्षीय कृष्णकुमार का शव बुधवार दोपहर हसनगंज इलाके में गोमती नदी में बहता हुआ मिला । सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव बाहर निकालकर पोस्टमार्टम को भेजवाया। परिवारीजनों ने हत्या का शक जताया है। माल थाने में 21 जनवरी को गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी। माल के दिगहारा निवासी सियाराम का बेटा कृष्ण कुमार किसान था। वो 20 जनवरी को घर से एक दोस्त से रुपये लेने की बात कहकर पैदल निकला था। देर रात तक नहीं लौटा तो परिवारीजनों ने तलाश शुरू की। कोई सुराग न लगने पर भाई सोहन ने 21 जनवरी को गुमशुदगी दर्ज कराई थी। प्रभारी निरीक्षक हसनगंज अमरनाथ वर्मा के मुताबिक, बुधवार दोपहर को गोमती में शव उताराता देखक स्थानीय लोगों ने सूचना दी। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शव बाहर निकलवाया। उसके पास से मिले आधार कार्ड से उसकी पहचान हुई। पुलिस ने माल थाने को सूचना दी। इसके बाद सोहन ने पोस्टमार्टम हाउस पहुंचकर कपड़े व आधार कार्ड के जरिए शिनाख्त की। सोहन ने आरोप लगाया कि उसके भाई की हत्या कर बदमाशों ने शव नदी में फेंक दिया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी। वहीं, अग्रसेन घाट के आसपास के लोगों का कहना है कि मंगलवार शाम को ही शव नदी में उतराता मिला था। इसकी सूचना पुलिस को दी थी। लेकिन कोई पुलिसकर्मी नहीं पहुंचा। इस पर प्रभारी निरीक्षक हसनगंज अमरनाथ वर्मा के सरकारी नंबर पर भी शव मिलने की सूचना दी गई, लेकिन रातभर पुलिस नहीं पहुंची।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी