ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
एक मित्र के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने जा रहे तीन लोगों की हत्या, ग्रामीणों ने चोर समझकर घटना को दिया अंजाम
April 18, 2020 • Tariq • राष्ट्रीय

-पुलिस मौके पर पहुंचकर जब इन्हें अपनी जीप में भरकर ले जाने लगी तब ग्रामीणों ने पुलिस पर भी हमला कर दिया..

-पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर 110 लोगों को हिरासत में लिया..

लखनऊमुंबई, 18 अप्रैल 2020, मुंबई के पालघर में गुरुवार रात ग्रामीणों में जिन तीन लोगों की चोर समझकर हत्या कर दी थी, उनकी पहचान हो गई है, तीनों मृतक मुंबई के कांदिवली से सूरत अपने एक मित्र के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने जा रहे थे, इसमें 35 साल के सुशीलगिरी महाराज और 70 साल के चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी थे, जबकि 30 साल का निलेश तेलगड़े ड्राइवर था, कासा पुलिस थाने के गडचिंचले के ग्रामीणों ने गुरुवार की रात पहले इनकी कार रोकी, फिर पत्थरों और कोयते से निर्मम हत्या कर दी।

-पुलिस मौके पर पहुंचकर जब इन्हें अपनी जीप में भरकर ले जाने लगी तब ग्रामीणों ने पुलिस पर भी हमला कर दिया..

हैरान करने वाली बात ये है कि सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंचकर जब इन्हें अपनी जीप में भरकर ले जाने लगी तब ग्रामीणों ने पुलिस पर भी हमला कर दिया, पुलिस जीप व घायलों को छोड़ भाग खड़ी हुई, इस हमले में कुछ पुलिस वाले भी घायल हुए हैं।

-पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर 110 लोगों को हिरासत में लिया..

 कासा पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर 110 लोगों को हिरासत में लिया है। कासा पुलिस स्टेशन के निरीक्षक आनंदराव काले ने घटना के बारे में बताते हुए कहा कि गुरुवार रात 9:30 से 10 बजे के बीच ये वीभत्स घटना हुई थी, ये घटना ऐसे समय में हुई जब कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू है, काले ने बताया कि तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए पालघर के सरकारी अस्पताल में भिजवा दिया गया था, उन्होंने बताया कि तीनों कार से मुंबई से आए थे और उनके वाहन को स्थानीय लोगों ने गडचिंचले के पास ढाबाड़ी-खानवेल मार्ग पर रोक दिया, ग्रामीणों ने उन्हें कार से बाहर निकाला और इस संदेह पर उन पर पत्थर और अन्य चीजों से हमला कर दिया कि वो लोग चोर हैं।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी