ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
घोर कलयुग नन्ही जान को फेंक दिया! नदी किनारे
December 10, 2019 • Tariq • उत्तरप्रदेश

 

घोर कलयुग नन्ही जान को फेंक दिया! नदी किनारे

रायबरेली ब्यूरों 


सोमवार की सुबह सई नदी किनारे भारत माता मंदिर के पास कोई एक नवजात बच्चे को छोड़कर चला गया। उसके रोने की आवाज नदी के तट पर रहने वाले शख्स ने सुनी। उसी ने एंबुलेंस बुलाई और मासूम को अस्पताल में भर्ती कराया। अभी उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।

सई नदी के किनारे गुलाबी रंग की तौलिए में लिपटा मासूम पड़ा मिला। एक पतला शॉल उसे ओढ़ाया गया था। जब पास में ही रहने वाला राजेश कुमार बच्चे के पास गया तो वह थर-थर कांप रहा था। नवजात को पहले जिला अस्पताल की इमरजेंसी लाया गया। यहां पर डॉ.एके वर्मा ने उसकी हालत देखी और महिला अस्पताल रेफर कर दिया। वहां मासूम को सिक न्यू बॉर्न केयर यूनिट में एडमिट किया गया है। डॉ.अंशुमान सिंह की देखरेख में उसका इलाज हो रहा है। चिकित्सक के मुताबिक बेबी प्री-मेच्योर है, लगभग सात या साढ़े सात माह का। उसका वजन भी 1490 ग्राम ही है। नाजुक हालत में उसको अस्पताल लाया गया। उसे बचाने की पूरी कोशिश की जा रही है। देखरेख के लिए भदोखर पुलिस से संपर्क किया गया है। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ.रेनू वर्मा ने बताया कि नवजात की पूरी केयर की जा रही है। चिकित्सक संग चिकित्सीय स्टाफ को पूरी तरह सक्रिय कर दिया गया है।

मनीष श्रीवास्तव की रिपोर्ट