ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
कोरोना के चलते दिए गए सरकारी आदेशो को ठेंगा दिखा रहें स्कूल संचालक
March 19, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

कोरोना के चलते दिए गए सरकारी आदेशो को ठेंगा दिखा रहें स्कूल संचालक

लखनऊ के विभिन्न क्षेत्र में सतर्कता की गाइडलाइन को दरकिनार कर विद्यालय खुले 

लखनऊ, 19 मार्च 2020, राजधानी में कोरोना के खौफ और सतर्कता के बजाय रसूख का अधिक रुतबा है। प्रदेश से लेकर केंद्र सरकार के आदेश को तमाम रसूखदार विद्यालय संचालक ठेंगा दिखा रहे हैं। सतर्कता की गाइडलाइन को दरकिनार कर विद्यालय खुल रहे हैं। शिक्षकों, कर्मचारियों को बुलाकर मुख्य गेट या चैनल पर ताला डलवाकर भीतर उनसे काम कराया जा रहा है। जबकि, सरकार ने सीबीएसई, आइसीएसई की परीक्षाएं छोड़कर शिक्षकों और कर्मचारियों के भी विद्यालय आने के लिए मना कर दिया है।

पहले स्कूल खुलने से इन्कार किया, फिर बंद किए..
बुधवार को जब इसकी शिकायतें डीआइओएस कार्यालय पहुंचीं। डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने फोन कर संचालकों को फटकार लगाई। इस पर संचालकों ने पहले टालमटोल की, फिर शिक्षकों की छुट्टी कर कॉलेज बंद करा दिए। डीआइओएस ने बताया कि ऐसे सभी विद्यालयों की सूची तैयार कर उनके खिलाफ कार्यवाई के लिए नोटिस तैयार की जा रही है।डीआइओएस को दोपहर करीब 12:45 बजे पॉलीटेक्निक स्थित सेंट मैरी इंटर कॉलेज के खुलने की सूचना मिली। शिकायतकर्ता ने बताया कि यहां 10 से 12 शिक्षकों को बुलाकर प्रबंधन ने विद्यालय का चैनल बंद कराकर बाहर से ताला लगा रखा है। विद्यालय की कठौता झील समेत अन्य ब्रांचों के खुलने की भी शिकायत मिली। इस पर डीआइओएस ने फोन कर प्रबंधन को फटकार लगाई।
इसके पूर्व, सुलतानपुर रोड स्थित सूर्या पब्लिक स्कूल, पवनपुरी स्थित न्यू पब्लिक स्कूल, इंदिरानगर स्थित शेरवुड इंटर कॉलेज, बीकेटी स्थित मिलेनियम स्कूल सहित कई विद्यालयों में शिक्षकों को बुलाए जाने की शिकायत आई। वहीं, शेरवुड कॉलेज के बाहर कुछ एक बच्चे भी खड़े थे। बताया जा रहा है कि यहां बच्चों को भी बुलाया गया था।
शिक्षा विभाग की टीम ने बंद कराई परीक्षाएं, ठाकुरगंज के खिन्नी चौराहे के पास स्थित देश भारती पब्लिक स्कूल में कक्षा एक से नौ तक के बच्चों की परीक्षाएं बुधवार को चल रही थीं। सूचना मिलते ही शिक्षा विभाग की टीम विद्यालय में पहुंची। टीम ने प्रिंसिपल को फटकार लगाई। इसके बाद बच्चों की छुïट्टी कर घर भेज दिया। टीम ने विद्यालय के कुछ दस्तावेज भी अपने पास जांच के लिए सुरक्षित किए हैं।

इन्हें जारी की गई नोटिस, मांगा तत्काल जवाब..
सिटी मांटेसरी स्कूल, महानगर, न्यू पब्लिक इंटर कॉलेज, कृष्णानगर, न्यू पब्लिक इंटर कॉलेज, पवनपुरी, शीलवती आइडियल स्कूल, कुंडरी रकाबगंज, बाल निकुंज इंटर कॉलेज, पलटन छावनी, एएस पब्लिक स्कूल, उतरेठिया, दि मिलेनियम स्कूल, बीकेटी। आरडी मेमोरियल इंटर कॉलेज, मोहान रोड, राम स्वरूप स्कूल, फैजाबाद रोड, केडीएस स्कूल गोमतीनगर, शेरवूड पब्लिक स्कूल इंदिरानगर, सिटी मांटेसरी स्कूल गोमतीनगर विस्तार ।


शासन-प्रशासन को भेजी गई सूची.. डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि उक्त विद्यालयों के खिलाफ नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा गया है। इसके साथ ही इसकी प्रतिलिपि प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा, शिक्षा निदेशक माध्यमिक, जिलाधिकारी और संयुक्त शिक्षा निदेशक षष्ठ मंडल को भी भेजी गई है। क्योंकि उक्त विद्यालयों द्वारा शासन और जिलाधिकारी कार्यालय के आदेशों की अवहेलना की जा रही है।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी