ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
क्वॉरेंटाइन किए गए बाहर से आए लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत छोड़ने का शिलशिला शुरू हो गया है।
April 10, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

क्वॉरेंटाइन किए गए बाहर से आए लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत छोड़ने का शिलशिला शुरू हो गया है।

 रायबरेली ब्यूरो


          कोविड-19 महामारी से जूझ रहे  जिले  के लिए राहत भरी खबर है । देश- प्रदेश के  कई अलग-अलग शहरों से लॉक डाउन के चलते जनपद में आए उन लोगों  को  अपने परिवार वालों से मिलने के लिए  शुक्रवार को छोड़ दिया गया ।जिन्होंने 14 दिन का क्वॉरेंटाइन समय पूरा कर लिया था  ।

उप जिलाधिकारी ऊंचाहार केशवनाथ गुप्ता तथा नोडल अधिकारी सहायक विकास अधिकारी सहकारिता रमेश कुमार चौधरी की देखरेख में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने  क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण  किया और उनमें  संक्रमण की कोई  आशंका न दिखने पर उन्हें घर जाने दिया गया। 
      ऊंचाहार तहसील में कुल 10 क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं । इन दसों सेंटरों पर कोविड-19 महामारी के संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉक डाउन के दौरान बाहर से आए  लोगों को 14 दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन किया गया है। इसी कड़ी में पराग महाविद्यालय सेमरी रनापुर ऊंचाहार भी क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाया गया है । यहां बाहर से आए 130 लोगों को क्वॉरेंटाइन के लिए रखा गया है । स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत शुक्रवार को यहां से 14 लोगों को घर जाने दिया गया ।  
         नोडल अधिकारी रमेश कुमार चौधरी ने बताया है कि अब प्रतिदिन उन लोगों को घर जाने दिया जाएगा जो 14 दिन का क्वॉरेंटाइन समय पूरा कर लिये होंगें तथा स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत जिनका  स्वास्थ्य उत्तम पाया जायेगा।
      उप जिलाधिकारी , नोडल अधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छोड़े गए लोगों को साफ निर्देश दिया है कि वे लोगों से तब तक शारीरिक दूरी बना कर रखेंगें जब तक  देश में परिस्थितियां सामान्य नही हो जाती हैं ।

 मनीष श्रीवास्तव