ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
लॉकडाउन के बीच बीजेपी विधायक ने दी बड़ी पार्टी, सोशल डिस्टेंसिंग तोड़कर लोगों में बंटवाई बिरयानी
April 11, 2020 • Tariq • राष्ट्रीय

-जन्मदिवस का उत्सव बेहद शाही अंदाज में मनाया तो वहीं पार्टी में शामिल लोग कोरोना वायरस के खौफ से बेखौफ नजर आए

-कर्नाटक के विधायक ने लॉकडाउन के दौरान बर्थडे का जश्न मनाया, हाथ में ग्लव्स पहनकर केक काटा, पार्टी में बड़ी संख्या में बच्चे और बड़े शामिल हुए..

-कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने इस पूरे मामले को संज्ञान में लेते हुए दोषी विधायक समेत उनपर एफआईआर दर्ज कराने और सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की मांग की..

अप्रैल 11, 2020, कोरोना वायरस से निपटने के लिए पूरे देश में सख्ती से लॉकडाउन का पालन कराया जा रहा है। बावजूद इसके आए दिन उल्लंघन के मामले सामने आते हैं। सवाल ये है कि जब जनप्रतिनिधि ही व्यक्तिगत कारणों के लिए नियमों की धज्जियां उड़ाते दिखेंगे तो जनता कैसे उनका कहना मानेगी? दरअसल कर्नाटक के तुरुवेकेरे के बीजेपी विधायक एम जयराम का शुक्रवार को जन्मदिन था और लॉकडाउन के नियमों को ताक पर रखते हुए बर्थडे का जश्न मनाया। 

-बीजेपी विधायक ने लॉकडाउन के दौरान बर्थडे का जश्न मनाया, हाथ में ग्लव्स पहनकर केक काटा, पार्टी में बड़ी संख्या में बच्चे और बड़े शामिल हुए..

बीजेपी विधायक ने तुमकुर के गुब्बी तालुक में गांव वालों को भी अपने बर्थडे सेलिब्रेशन में शामिल किया। एम जयराम ने हाथ में ग्लव्स पहनकर एक बड़ा केक काटा। उनकी पार्टी में बड़ी संख्या में लोगों और बच्चे भी पहुंचे थे। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग भी फॉलो होता नहीं दिखा। केक के बाद गुब्बी कस्बे में बिरयानी भी बांटी गई। बताते चले कि कर्नाटक के टुमकुर में बीेजेपी विधायक एम जयराम ठाकुर ने लॉकडाउन के नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए सरेआम अपने जन्मदिवस के अवसर पर आयोजित की गई पार्टी में लोगों को बिरयानी बांटी।

-जन्मदिवस का उत्सव बेहद शाही अंदाज में मनाया तो वहीं पार्टी में शामिल लोग कोरोना वायरस के खौफ से बेखौफ नजर आए..

एक तरफ जहां उन्होंने अपने जन्मदिवस का उत्सव बेहद शाही अंदाज में मनाया तो वहीं दूसरी तरफ उन्होंने लोगों को बिरयानी भी बांटी। बिरयानी बांटने के दौरान लोग कोरोना वायरस के खौफ से बेखौफ दिखे। इस दौरान लोगों में सोशल डिस्टेसिंग नाम की चीज तक नहीं दिखी। स्थिति की गंभीरता का अंदाजा महज इसी से लगाया का सकता हैं कि लगातार लोग एक दूसरे पर टूट रहे थे।

-कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने इस पूरे मामले को संज्ञान में लेते हुए दोषी विधायक समेत उनपर एफआईआर दर्ज कराने और सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की मांग की..

मालूम हो कि एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समस्त देशावसियों से कोरोना के कहर के दौरान लॉकडाउन के नियमों का पालन करने की गुहार लगाते हुए अपने घरों में रहने की अपील कर रहे हैं। साथ ही किसी भी प्रकार के जलसे का आयोजन करने की सख्त मनाही कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में बीजेपी विधायक का यह कृत्य सवालिया कठघरे में खड़ा होता है।
वहीं, कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने इस पूरे मामले को संज्ञान में लेते हुए विधायक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग की है। उन्होंने इस दोषी विधायकों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

कर्नाटक में 197 कोरोना केस..कर्नाटक में अब 197 सक्रिय केस हैं जबकि 30 की मौत हो चुकी है। जबकि 6 की मौत हो चुकी है। कर्नाटक में बढ़ते कोरोना मरीजों को देखते हुए सीएम येदियुरप्पा भी राज्य में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन जारी रखने के पक्ष में हैं। उन्होंने डॉक्‍टरों के एक एक्‍सपर्ट पैनल की धीरे-धीरे लॉकडाउन हटाने की सिफारिश को खारिज कर दिया।

देश में लगातार बढ़ रहे मरीज..बता दें कि देशभर में कोरोना के मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले 24 घंटे में देश के अंदर 1035 कोरोना के नए केस आए जबकि 40 लोगों की मौत हो गई। ये अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, 'देश में अब कोरोना के कुल 7447 केस हो चुके हैं जिसमें 6565 सक्रिय केस हैं। इनमें से 643 पूरी तरह ठीक हो चुके हैं जबकि 239 की मौत हो चुकी है।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी