ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
लॉकडाउन के बीच लखनऊ में जगह जगह ऐलान, रमजान में घरों में रहकर रस्मो को निभाएं
April 22, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

-इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया पूरे लखनऊ शहर में जगह-जगह ऐलान करवा कर लोगों से त्योहार के दौरान लॉकडाउन का पालन करने की अपील कर रहा है..

24 अप्रैल को रमजानुल मुबारक का चांद देखा जाएगा, अगर चांद हो गया तो 25 अप्रैल को पहला रोजा होगा वरना 26 को पहला रोजा रखा जाएगा..

लखनऊ, 22 अप्रैल 2020, उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण का सिलसिला जारी है। पूरे देश के साथ-साथ यूपी में भी लॉकडाउन लागू है। 24 अप्रैल से रमजान का पाक महीना भी शुरू होने वाला है। ऐसे में इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया पूरे लखनऊ शहर में जगह-जगह ऐलान करवा कर लोगों से त्योहार के दौरान लॉकडाउन का पालन करने की अपील कर रहा है। शहर में कई जगह लाउडस्पीकर से ऐलान करवाया जा रहा है कि सभी लोग रमजान के दौरान घरों में रहकर ही दुआ करें और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करें।

-शहर में जगह-जगह ऐलान करवा कर लोगों से त्योहार के दौरान लॉकडाउन का पालन करने की अपील..

 ऐसे में इस्लामिक सेंटर ऑफ़ इंडिया शहर में जगह-जगह ऐलान कर रमजान के पवित्र महीने का पालन करने और अपने घरों में रहकर रस्मों को निभाने की अपील कर रहा है। 
बता दें 24 अप्रैल से रमजान का पहला महीना शुरू हो रहा है। इसके तहत रमजान हेल्प लाइन भी शुरू की गई है। जिसका शुभारंभ बीते मंगलवार को इमाम ईदगाह लखनऊ व चेयरमैन इस्लामिक सेंटर ऑफ़ इंडिया मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने किया था। इस दौरान उन्‍होंने कहा था कि रोजा और अन्य इबादतों के सही होने के लिए मसायल का जानना जरूरी है। इस के बिना खुदा की इबादत का हक अदा नहीं किया जा सकता। कुरान पाक में ईमान वालों से कहा गया कि अगर तुमको किसी चीज के बारे में मालूम न हो तो अहले इल्म से पूछ लो। उन्होने बताया था कि हेल्प लाइन से रमजान की अहमियत के साथ रोजा, जकात, तरावीह, इफ्तार, सहरी, नमाज व अन्य समस्याओं से सम्बन्धित सवाल कर सकेंगे। जिनके जवाब उलामाक्राम का एक पैनल देगा। यह रमजान हेल्प लाइन अपने पुराने तरीके के अनुसार काम करेगी। ये हेल्प लाइन देश में अपने आप में एक अनोखी हेल्प लाइन है। हेल्प लाइन  पहली रमजानुल मुबारक से दिन में दोपहर 2 बजे से शाम 4 बजे तक कार्यरत रहेगी। 
इन पर करें संपर्क, वाट्सएप : 9415023970, 9335929670, 9415102947, 7007705774 व 9140427677

24 अप्रैल को रमजानुल मुबारक का चांद देखा जाएगा..

मौलाना ने जिला प्रशासन के अधिकारियों और मुसलमानों से अपील करते हुए कहा था कि 24 अप्रैल को रमजानुल मुबारक का चांद देखा जाएगा। अगर चांद हो गया तो 25 अप्रैल को पहला रोजा होगा वरना 26 को पहला रोजा रखा जाएगा। वहीं ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदर मौलाना राबे हसनी नदवी ने मुसलमानों से रमजान में घरों में इबादत करने की अपील की है। उन्होंने कहा था कि कोरोना वायरस की वजह सबके लिए जरूरी है कि रमजान के मौके पर इबादत घरों में करें, क्योंकि ये वक्त का तकाजा भी है। इससे एक अच्छी मिसाल कायम होगी।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी