ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
लॉकडाउन के चलते कांस्टेबल ने मां की इच्छा पूरी कर फोन पर किया निकाह, दुल्हन ने वीडियो कॉलिंग पर कहा कबूल है
April 20, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

 -अपनी मां की इच्छा पूरी करने के लिए वीडियो कालिंग से निकाह किया, लॉक डाउन के बीच तमाम तामझाम से अलग इस शादी की चर्चा..

-इस निकाह में खास बात ये रही कि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया और लोग एक साथ एक जगह पर जमा नहीं हो पाए..

लखनऊउत्तर प्रदेश, 20 अप्रैल 2020, हापुड़ में तैनात पुलिस कांस्टेबल मोहसिन ने अपनी मां की इच्छा पूरी करने के लिए वीडियो कालिंग से निकाह किया, लॉकडाउन के बीच तमाम तामझाम से अलग इस शादी की चर्चा हर ओर रही है, साथ ही ये निकाह इस बात का भी गवाह है कि कोरोना वायरस का असर हमारे समाज में किस तरह से पड़ा है, कांस्टेबल मोहसिन के निकाह में महज दो गवाह और एक इमाम साहब मौजूद थे, सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर मोहसिन का निकाह के रश्में वीडियो कॉलिंग के जरिए पूरी की गईं, दुल्हन ने भी वीडियो कॉलिंग पर तीन बार कबूल है... कबूल है... निकाह को रजामंदी दी, निकाह के बाद जब मोहसिन से पूछा गया कि वो चाहते तो कुछ लॉकडाउन के खत्म होने का इंतजार कर सकते थे।

-हापुड़ में तैनात सिपाही ने अपनी मां की इच्छा पूरी करने के लिए वीडियो कालिंग से निकाह किया..

 तो उनका कहना था कि उनकी मां बीमार रहती हैं वो चाहती हैं कि बेटे की निकाह जल्द से जल्द हो जाए, लेकिन इसमें लॉकडाउन बड़ी समस्या बन गया, कोई और रास्ता न देख मोहसिन ने इस निकाह को समाज में एक नजीर बनाने का फैसला लिया, लॉकडाउन के नियम भी न टूटे और सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर वीडियो कॉलिंग और मीटिंग के एक ऐप से जुड़कर निकाह की रश्में अदा की गईं, मोहसिन की इस शादी में न तो कोई खर्च हुआ न ही कोई लॉकडाउन के नियम का उल्लंघन हुआ।
दरअसल हापुड़ एसपी आफिस पर तैनात हेड कांस्टेबिल मोहसिन के सभी रिश्तेदार, स्वजन व दुल्हन पक्ष के लोग अपने-अपने घरों पर रहकर ही मोबाइल एप के जरिए एक दूसरे से वीडियो कॉल पर जुड़ गए। वर्दी पहने मोहसिन हापुड़ की एक मस्जिद में पहुंचे, जहां इमाम व दो गवाहों की मौजूदगी में मोहसिन ने दुल्हन को वीडियो कॉल पर कबूल है..कबूल है..कबूल है बोलकर निकाह कर लिया। 

-इस निकाह में खास बात ये रही कि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया और लोग एक साथ एक जगह पर जमा नहीं हो पाए..

इस निकाह के गवाह वीडियो कॉल पर मौजूद दोनों पक्षों के रिश्तेदार रहे। इस निकाह में खास बात ये रही कि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया और लोग एक साथ एक जगह पर जमा नहीं हो पाए। इस कारण ही लोग मोहसिन को बधाई देते हुए उनके इस सराहनीय कदम की जमकर प्रशांसा की है।
बता दें कि पिछले कुछ समय से मोहसिन की माता हमीदा बेगम दिल की बीमारी से जूझ रही हैं। कुछ दिनों से उनकी हालत काफी गंभीर चल रही है। इस कारण मां ने अाखिरी इच्छा के रूप में पुत्र मोहसिन का निकाह करके दुनिया से रूखसत होने की बात कही। इस कारण निकाह करना मोहसिन के लिए जरूरी हो गया। मां की इच्छा पूरी करने के लिए उसने ने एक मोबाइल एप के जरिए शादी करने की ठानी। इसके लिए उसने अाला अधिकारियों से निकाह इजाजत ली। हेड कांस्टेबिल के सभी रिश्तेदार, स्वजन व दुल्हन पक्ष के लोग अपने-अपने घरों पर रहकर ही मोबाइल एप के जरिए एक दूसरे से वीडियो कॉल पर जुड़ गए। वीडियो कॉल पर मौजूद रिश्तेदारों की मौजूदगी में यह निकाह हुआ, जो अब जनपद हापुड़ में चर्चा का विषय बना हुआ।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी