ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
लॉकडाउन के चलते तीन माह की फीस माफ कर दें प्राइवेट स्कूल, बाल अधिकारी संरक्षण आयोग की सदस्य ने जारी किया पत्र
March 30, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

लॉकडाउन के चलते तीन माह की फीस माफ कर दें प्राइवेट स्कूल, बाल अधिकारी संरक्षण आयोग की सदस्य ने जारी किया पत्र

 स्कूल प्रबंधकों से अपील की वो आपदा के दृष्टिगत बच्चों के अगले तीन माह की फीस माफ कर दें, बड़ी आबादी को बड़े संकट से निपटने की ताकत मिलेगी

लखनऊ, 29 मार्च 2020, उत्तर प्रदेश बाल अधिकारी संरक्षण आयोग की सदस्य प्रीति वर्मा ने सभी निजी स्कूल प्रबंधको को स्कूल फीस माफ करने की अपील की है। इस संबंध में शनिवार को पत्र जारी किया गया है। पत्र में लिखा है कि कोरोना वायरस से पूरा विश्व संकट में है। आज नहीं तो कल हम इसपर भी जीत पा लेंगे। लेकिन, इस विजय के बाद कई चुनौतियां खड़ी होगी। ऐेसे आपातकाल में स्कूल प्रबंधको से अपील है कि वो इस आपदा के दृष्टिगत बच्चों के अगले तीन माह की फीस माफ कर दें। बड़ी आबादी को बड़े संकट से निपटने की ताकत मिलेगी। 
जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने सभी निजी स्कूल प्रबंधन से अभिभावकों पर फीस जमा करने के लिए दबाव न बनाने की अपील की है। डीआईओएस ने कहा कि पूरी दुनिया कोरोना महामारी से लड़ रही है। इन हालातों में मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए अभिभावकों को राहत देने के लिए कहा है। 

काश कि ऐसे समय जब देश संकट से गुजर रहा है ऐसे में लोग एक दूसरे की मदद के लिए सराहनीय कार्य कर रहें हैं जरूरत मंदो को राहत सामग्री पहुंचा रहें हैं सामाजिक कार्यकर्ता, सामाजिक संस्थाएं इंसानियत को आगे रखते हुए बिना भेदभाव के लोगो की जरूरतों का ख्याल रखते हुए हर प्रकार से मदद में लगी हुई हैं। काश कि ऐसे में प्राइवेट स्कूल प्रशासन भी मदद करने में पहल करती काश कि हर निजी स्कूल ऐसे वक्त में फीस माफ करते हुए अभिभावकों की मदद करने में अपना योगदान करता। काश कि हर निजी स्कूल कोरोना से लड़ने में कंधे से कंधा मिलाकर भारतीय नागरिक होने के इस कर्तव्य को अपनी ज़िम्मेदारी से पूरा करता।

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी