ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
लॉकडाउन के दौरान समाचार पत्र कर्मयोगी और मीडियाकर्मियों को पास की जरूरत नहीं
March 28, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

लॉकडाउन के दौरान समाचार पत्र कर्मयोगी और मीडियाकर्मियों को पास की जरूरत नहीं

पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान मीडिया पर किसी तरह की पाबंदी नहीं

लखनऊ, 28 मार्च 2020, लॉकडाउन के दौरान पत्रकारों के शहर में सामाचार संकलन करने और अखबार वितरण पर कोई रोक नहीं है। सरकार ने इसे बीस आवश्यक सेवाओं में शामिल किया है और सभी प्रदेशों के पुलिस और प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों से इसका पालन सुनिश्चत करने को कहा है। 
पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान मीडिया पर किसी तरह की पाबंदी नहीं है। पत्रकार कहीं पर भी समाचार संकलन के लिए भ्रमण कर सकते हैं। उनके पास अपने अखबार का परिचय पत्र होना चाहिए, अगर कहीं पर कोई पुलिसककर्मी रोकता है तो बस अपना परिचय पत्र दिखाना होगा। इसी तरह समाचार पत्र वितरक भी अपना परिचय पत्र साथ रखें। उनको भी किसी तरह के पास की जरूरत नहीं है।  अखबार के दूसरे कार्यों से जुड़े लोगों के लिए भी यही नियम है, बस सबको अपना परिचय पत्र रखना अनिवार्य है। 
पुलिस आयुक्त ने सभी पत्र वितरकों से आग्रह किया है कि वह बेफिक्र होकर अपना कार्य करें। पुलिस की ओर से उन्हें कोई परेशानी नहीं होगी। प्रिंट मीडिया आवश्यक सेवाओं में सिम्मलित है। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश का कहना है कि प्रिंट मीडिया को आवश्यक सेवाओं में रखा गया है और इसके लिए सरकार की ओर से भी आदेश जारी किया जा चुका है। पुलिस प्रशासन की आरे से समाचार पत्र वितरकों और मीडियाकर्मियों की सुविधा का ध्यान रखा जाएगा। 

रिपोर्ट @ आफाक अहमद मंसूरी