ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
नाबालिग लड़की को प्रेमी भगा ले गया
December 12, 2019 • Tariq • उत्तरप्रदेश

नाबालिग लड़की को प्रेमी भगा ले गया

नाबालिग लड़की को रिश्तेदारों को सहयोग से प्रेमी द्वारा भगा ले जाने का  एक मामला  प्रकाश में आया है  सरकार के लाख प्रयास के बाद भी बलात्कार और महिलाओं से संबंधित अपराध रुकने का नाम ही नहीं ले रहे हैं अपराधी के दिल में पुलिस का भय समाप्त होता जा रहा है यही कारण है की समाज में अपराध दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं ताज़ा मामला है फतेहपुर जिले के थाना जहानाबाद के ग्राम रजनीयापुर कृपालपुर का जहां भगा कर ले गई एक नाबालिक के भाई ने थाना जहानाबाद में लिखित तहरीर दिया कि उसकी नाबालिग बहन उम्र 16 वर्ष है पास के ही गांव का रहने वाला लड़का रवि पुत्र सूरज निषाद ग्राम भैरमपुर का रहने वाला है और  लड़की के घर के पास उसकी रिश्तेदारी है जोकि अक्सर वहां आता जाता रहता था इसी दौरान उसकी जान पहचान तो नाबालिग लड़की से हो गई और बातचीत मिलने जुलने का क्रम चलता रहा चू की घर के पास रिश्तेदारी थी  और आता जाता रहता था इस कारण दोनों में कब प्यार हो गया लड़की के घरवालों को नहीं पता चला इसी का लाभ उठाते हुए लड़का लड़की को बहला-फुसलाकर 4 दिसंबर 2019 को दोपहर के समय जब लड़की घर में अकेली थी और सभी लोग  अपने अपने काम पर गए थे तब भगा ले गया और लड़की अपने साथ घर में रखा नगद ₹43000 और कुछ जेवर साथ में ले गई है पीड़ित अमित कुमार ने बताया कि बहन हमारी नाबालिग है इसी के चलते बहला-फुसलाकर रवि उसे भगा ले जाने में सफल हो गया जब थाना प्रभारी निरीक्षक ज्ञान सिंह से बात की गई तो थाना प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि तहरीर मिली है जांच की जा रही है जल्द ही लड़की लड़का का पता लगा ढूंढ निकाला जाएगा और उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी और दोषी लोग किसी भी हालत में बक्से नहीं जाएंगे। परंतु यहां पर सवाल यह पैदा होता है की जब लड़की नाबालिक थी तो पुलिस द्वारा पास्को एक्ट के तहत कार्रवाई क्यों नहीं की गई पास्को एक्ट के तहत कार्यवाही न करना जांच अधिकारी की तरफ उंगली उठ रही है कि कहीं ना कह ीं कुछ ना कुछ तो गड़बड़ है वरना नाबालिक को भगा ले जाने के जुर्म में सबसे पहले पास्को एक्ट की धाराएं सम्मिलित होने चाहिए थी।

कलीम खान जहानाबाद सवांददाता