ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
नही की जा रही है प्रवासी मजदूरों की देखरेख, नहीं रखा जा रहा है उनके सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान
May 14, 2020 • Team janadhikar • उत्तरप्रदेश

नही की जा रही है प्रवासी मजदूरों की देखरेख, नहीं रखा जा रहा है उनके सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान

कौशांबी ।

नही की जा रही है प्रवासी मजदूरों की देखरेख, नहीं रखा जा रहा है उनके सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान । खाने-पीने में भी हो रही है लोगों को दिक्कत ,सदर तहसील मंझनपुर के ओसा स्थित एमबी कान्वेंट स्कूल का मामला । जिला अस्पताल में भी लगी प्रवासी मजदूरों की भीड़ । सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाई जा रही धज्जियां, प्रवासी मजदूर हो रहे धूप में परेशान ।
👉 कौशांबी जनपद की गलियों में पैदल चल रहे हैं प्रवासी मजदूर । जिला प्रशासन द्वारा पैदल चलने वाले मजदूरों का नहीं किया जा रहा है कोई इंतजाम । लोगों ने बताया मुंबई से ट्रकों व पैदल चलकर जिले में पहुंचे है लोग । कौशाम्बी ब्लाक के महिला ग्राम मे पहुंचे हुए लोगों ने बताया कि विद्यालय में नहीं है कोई इंतजाम ,जानकारी के अभाव में अलग-अलग जगह परेशान हो रहे हैं प्रवासी मजदूर ।
👉बता दे  कि बाहर से कौशांबी जिले में आने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए ओसा स्थित एमबी कॉन्वेंट स्कूल में लोगों को एकत्र किया जा रहा है । यहां से जांच कर फिर वाहन के द्वारा उनके इलाके मे भेजा जाता है और तहसील के एसडीएम द्वारा संबंधित गांव क्षेत्र में बने हुए कोरेन्टाइन सेंटरों  पर रखा जा रहा है । लोगों के जांच के बाद उन्हें भेजा जाता है लेकिन जानकारी के अभाव मे लोग परेशान हो रहे हैं ।  प्रवासी मजदूर बाहर से रात और दिन मे लगातार आ रहे हैं और कुछ जानकारी न होने पर वे लोग अपने-अपने गांव के स्कूलों में जा रहे हैं लेकिन वहां व्यवस्था नहीं हो पा रही है । ऐसे में ग्राम प्रधानो को चाहिए कि बाहर से आने वाले लोगों को पोशाक स्थित एमडी कॉन्वेंट स्कूल में पहुंचे और वहां से जांच होने के बाद संबंधित कोरेन्टाइन सेंटरों में भेजने का काम कराएं।

कौशाम्बी सवांददाता मक्खन लाल की रिपोर्ट