ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
शाहीन बाग: सुप्रीम कोर्ट ने कहा फिलहाल हस्तक्षेप नहीं करेंगे, अब 23 मार्च को सुनवाई
February 26, 2020 • Tariq • राष्ट्रीय

 

शाहीन बाग: सुप्रीम कोर्ट ने कहा फिलहाल हस्तक्षेप नहीं करेंगे, अब 23 मार्च को सुनवाई।

शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पिछले दो महीने से ज्यादा दिनों से चल रहे धरना-प्रदर्शन को लेकर बुधवार को एक बार फिर सुनवाई हुई, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल सका। सुनवाई को दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि फिलहाल इस मामले में हस्तक्षेप नहीं करेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 23 मार्च की तारीख तय की है। सुनवाई को दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि दिल्ली हाईकोर्ट में हिंसा से जुड़ी दलीलों को सुना है।
इससे पहले सोमवार को सुनवाई हुई थी। उस दिन कोर्ट द्वारा नियुक्त दोनों वार्ताकारों संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन ने अपनी रिपोर्ट सीलबंद लिफाफे में दाखिल की थी।
सुप्रीम कोर्ट आज बीजेपी नेता नंद किशोर गर्ग और वकील अमित साहनी की भी याचिका पर सुनवाई हुई। याचिका में शाहीन बाग में डटे प्रदर्शनकारियों को हटाने की मांग की गई है।

रिपोर्ट@त्रिलोकी नाथ