ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
शर्मनाक: यहां मजदूरी मांगने पर दबंगों ने मजदूर को कुएं में फेंका, मारपीट की।
December 6, 2019 • Tariq • उत्तरप्रदेश

 

शर्मनाक: यहां मजदूरी मांगने पर दबंगों ने मजदूर को कुएं में फेंका, मारपीट की।

रायबरेली: प्रदेश के पुलिस विभाग के मुखिया भले ही पुलिस को हमेशा अलर्ट और संवेदनशील होने की नसीहत देते हो लेकिन उनकी नसीहत का कोई असर जिलों में नहीं नजर आ रहा है। पुलिस की सुस्ती और लापरवाही की सजा आम जनता को भुगतनी पड़ती है।
ताजा मामला रायबरेली का है जहाँ दबंगो के हौसले बुलंद है और उनमे पुलिस का खौफ नदारद है, थानों पर सुनवाई नहीं हो रही है जिससे पीड़ित पुलिस अधीक्षक कार्यालय पंहुच कर न्याय की मांग करने को मजबूर है।
ऐसा ही एक मामला आज सामने आया है, जंहा 22 दिन की मजदूरी मांगने गए मजदूर को दबंगों ने कुंएं में फेंका दिया और उसे बचाने पंहुचे ,परिजनों से भी मारपीट की साथ ही कही भी शिकायत करने पर जान से मारने की धमकिया भी दी।
लेकिन कुएं में गिरे मजदूर का वीडियो वायरल होने के बाद जब पीड़ित पुलिस अधीक्षक कार्यालय पंहुचा तो पुलिस की नींद टूटी और उसको कार्यवाही का आश्वासन दिया गया।
पीड़ित परिवार पहुंचे एसपी ऑफिस, न्याय की लगायी गुहार
रायबरेली जिले के जगतपुर थाना अन्तर्गत पूरे तुला मजरे भीखा गाँव के रहने वाले रामराज अपने परिवार के साथ पुलिस अधीक्षक कार्यालय पंहुचे जंहा उन्होंने शिकायत करते हुए बताया कि बीती 2 दिसम्बर को गाँव के ही संजय के यंहा उसका पुत्र प्रकाश अपनी 22 दिन की मजदूरी मांगने पंहुचा तो दबंगों ने उसे मारा पीटा और गला भी दबाया
जिसके बाद उसके पुत्र को कुंए में फैंक दिया। जिसे बचाने के लिए जब परिजन पंहुचे तो उनके साथ भी मारपीट की गयी। काफी मशक्क्त के बाद प्रकाश को कुंए से निकाला गया और अस्पताल में भर्ती कराया गया।
जिसके बाद सभी शिकायत लेकर थाने पंहुचे लेकिन वंहा कोइ सुनवाई नहीं हुई। थकहार कर रामराज पुलिस अधीक्षक कार्यालय न्याय की गुहार लेकर पंहुच गया और वंहा शिकायती पत्र दिया।
वहीं इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानंद राय ने कहा कि संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज हो चुका है। अभी जांच चल रही है जांच के बाद ही कुछ बता पाएंगे।


त्रिलोकी नाथ
 अमावां रायबरेली