ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
ट्रिपल तलाक: पीड़िता के आत्मदाह की कोशिश के बाद जागी पुलिस, दर्ज किया केस
December 3, 2019 • Tariq • उत्तरप्रदेश

ट्रिपल तलाक: पीड़िता के आत्मदाह की कोशिश के बाद जागी पुलिस, दर्ज किया केस।

रायबरेली: यूपी में ट्रिपल तलाक़ की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहीं है। पीड़िता न्याय के लिए थाने के चक्कर लगाने को मजबूर है लेकिन यूपी पुलिस है कि मदद करने की जगह मामले को टरकाने में लगी है।
ऐसा ही एक मामला रायबरेली में सामने आया है। यहां एक तलाक पीड़िता पुलिस से इंसाफ की भीख मांगती रही लेकिन उसकी मदद नहीं की गई। उसने जब मजबूरी में बच्चे के संग आत्मदाह का प्रयास किया उसके बाद पुलिस के हाथ पांव फूल गये। आनन फानन में अधिकारियों के निर्देश पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।
ये है पूरा मामला
मामला लालगंज कोतवाली क्षेत्र के बहाई गांव का है।
सोमवार को एसपी आफिस में अफरा तफरी मच गई। जब ट्रिपल तलाक़ की पीड़ित महिला ने अपने मासूम बच्चे के साथ आत्मदाह की कोशिश की।
महिला अपनी मां के साथ यहां पहुंची थी और आंसू बहा रही थी। इसका कसूर इतना था कि इसने अपने पति की दहेज की मांग पूरा नही किया था। जिस पर इसके पति ने इसे तीन तलाक देकर दूसरी शादी कर ली और इसे घर से भगा दिया।
बताते चले कि पीड़िता की शादी लालगंज कोतवाली क्षेत्र के बहाई ग्राम में हुई थी और उसका पति विदेश में नौकरी करता है। नवम्बर माह में पीड़िता का पति जब घर आया तो पीड़िता अपनी ससुराल पहुची तो वंहा उससे दहेज की मांग की गई लेकिन उसने असमर्थता दिखाई जिस पर पति ने उसे तीन तलाक देकर भगा दिया और दूसरी शादी कर ली।
तब से पीड़िता न्याय के लिए चक्कर काट रही है लेकिन उसे न्याय नही मिल रहा है। आज फिर वो उसी के लिए एसपी आफिस पहुंची और न्याय न मिलने पर जान देने की बात कही। मामला बढ़ते देख मौके पर पहुचे सीओ ने तत्काल मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए और पीड़िता को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया।
रायबरेली के एएसपी नित्यानन्द राय ने बताया कि महिला थाने में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मुलजिमों को खिलाफ और भी आरोप हैं। शीघ्र ही उनकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

त्रिलोकी नाथ
 अमावां रायबरेली