ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
उप जिलाधिकारी बिन्दकी ने किया ऐतिहासिक तालाब का निरीक्षण
January 18, 2020 • Tariq • उत्तरप्रदेश

 

उप जिलाधिकारी बिन्दकी ने किया ऐतिहासिक तालाब का निरीक्षण
जहानाबाद/फतेहपुर.... ऐतिहासिक तालाब की खुदाई एवं क्षतिग्रस्त करने की शिकायत को लेकर उप जिलाधिकारी बिंदकी ने मौके पर पहुंचकर तालाब का किया मौका मुआयना । प्राप्त जानकारी के अनुसार विकासखंड देवमई के ग्राम पंचायत जाफर पुर सिठर्रा के अंतर्गत आने वाला लाल बिहारा ऐतिहासिक तालाब पड़ता है जिसके सिल्ट की सफाई पिछले वर्ष सन 2019 में जुलाई अगस्त के महीने में सिल्ट की सफाई मनरेगा के तहत 57 सेंटीमीटर की गहराई तक कराया गया था जिसकी शिकायत कुछ लोगों ने बिंदकी उप जिलाधिकारी पहलाद सिंह के यहां किया था कि ऐतिहासिक तालाब मैं खनन हो रहा है और मानक से ज्यादा मिट्टी निकाली गई है तब उप जिलाधिकारी बिंदकी ने 1 दिन पहले राजस्व विभाग की टीम को भेजा था जांच करने के लिए और आज खुद मौके पर पहुंचकर ऐतिहासिक तालाब का मौका मुआयना किया तथा वहीं पर मौजूद कुछ लोगों से पूछताछ भी किया गांव वालों ने भी बताया कि पिछले वर्ष जुलाई-अगस्त में ऐतिहासिक तालाब में सिल्ट की सफाई का कार्य हुआ था जो ग्राम प्रधान के द्वारा कराया गया था इस संबंध में जाफर पुर सिठर्रा के पूर्व प्रधान सुरेश चंद उत्तम से हमारे पत्रकार गणों ने पूछा तो पूर्व प्रधान ने बताया कि हमारे ऊपर जो भी आरोप लगाए गए हैं वह निराधार हैं तथा ना ही हमने कोई अपना प्लाट के पूराई करवाई है और ना ही मिट्टी का खनन करवाया है मेरे ऊपर जो भी आरोप है वह निराधार एवं राजनैतिक द्वेष के कारण लगाए जा रहे हैं इस विषय में ग्राम प्रधान राजकली गिहार ने बताया कि इस ऐतिहासिक तालाब में सिल्ट की सफाई का कार्य माह जुलाई-अगस्त सन् 2019 में मनरेगा के तहत जिसमें ₹175000 का कार्य कराया गया था और इसके बाद ग्राम पंचायत की हैसियत से कोई भी कार्य तालाब में नहीं कराया गया है तथा तालाब से जो मिट्टी निकाली गई है इसकी जानकारी हमें प्राप्त नहीं है ।

कलीम खान जहानाबाद सवांददाता