ALL उत्तरप्रदेश विदेश राष्ट्रीय शिक्षा खेल धर्म-अध्यात्म मनोरंजन संपादकीय epaper
वैदिक मंत्रों से शुरु हुआ पंचदिवसीय रुद्रमहायज्ञ
February 20, 2020 • Tariq • धर्म-अध्यात्म

बबई में बह रही है धर्मरस की बहार, श्रोता उसमे लगा रहे गोते

श्रीमद्भागवत कथा में कृष्ण जन्म धूमधाम से मनाया

वैदिक मंत्रों से शुरु हुआ पंचदिवसीय रुद्रमहायज्ञ

 


 अमौली ब्लॉक के ग्राम बबई के महामहेश्वर धाम में  शहीद प0 राम दुलारे तिवारी के स्मृति में श्रीमद्भागवत कथा के साथ धार्मिक आयोजन किया जा रहा है ।

 आज पंचदिवसीय रुद्रमहायज्ञ के प्रथम दिवस पर यज्ञाचार्य श्रीनारायण  शास्त्री ने गौरी गणेश पूजन, कलश पूजन व सभी देवी देवताओं का आव्हान किया गया।
यज्ञ में मुख्य यजमान के रूप में रामबाबू शुक्ल अपनी पत्नी सहित उपस्थित रहे। आचार्य ने बताया कि यज्ञ से वातावरण शुद्ध होता है, जन कल्याण के लिए अत्यन्त आवश्यक है।


 कार्यक्रम में श्रीमद्भागवत कथा के चतुर्थ दिवस पर वृन्दावन धाम से पधारे पूज्यपाद संत श्री सच्चा बाबा के कृपापात्र श्री राघव जी महाराज श्री वृंदावन धाम के द्वारा संगीतमय श्रीमद् भागवत कथा का रसपान कराया जा रहा है।

भागवत कथा के चतुर्थ दिवस के महोत्सव में देवताओ के हित के लिए वामन के चरित्र का वर्णन किया।
गुरु के महत्व पर विस्तार से चर्चा किया। गुरु निधि भव निधि तरिय न कोई, जो विरंचि शंकर सम  होई।
गुरु के बिना इस भव सागर से पार नही किया जा सकता है  चाहे उसमे भगवान शंकर क्यो न हो।।

हिरण्यकश्यप के पुत्र प्रहलाद के चरित्र के बारे में विस्तार से चर्चा की। प्रभु के प्रति अनुराग के कारण अपने पिता की बात न मानकर वह प्रभु गुणनुवाद में मगन रहा।। तमाम प्रतारणाओ पहाड़ो के फिकवाने बुआ होलिका के द्वारा  आग मे जलवाने बावजूद वह ओम नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र जा जाप करते हुए बचता रहा।।अंत ने स्वयं भगवान नरसिंह अवतार के रूप में आकर हिरण्यकश्यप का वध करके प्रहलाद को दर्शन दिए।।
भगवान के विभिन्न अवतारों के प्रश्नों के बारे भी बृहद चर्चा की।

श्री रामचरितमानस की चौपाइयों का गान करते हुए मर्यादा पुरुषोत्तम राम और जानकी के विवाह का वर्णन सुनाया। सांध्यकालीन समय मे यदुकुल तिलक श्री कृष्ण का जन्मोत्सव सुंदर बधाई गीतों एवं नृत्यगान करते हुए,  हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

कार्यक्रम में महेश शुक्ल व उनकी पत्नी रानी देवी ने परीक्षित बन कथा श्रवण किया।
कथा सुनने के लिए दूर दूर से लोग सैकड़ों की संख्या में  महिलाएं बच्चे व बुजुर्ग पहुच रहे है।

इस मौके पर सियादुलारी,गीता, ओमप्रकाश तिवारी,कीर्तिदेव तिवारी, कृष्णा तिवारी, अनुपम मिश्र,मयंक,अरुण तिवारी, शिवशंकर, रमई, जनार्दन प्रसाद,सहित कई लोग उपस्थित रहे।

कलीम खान जहानाबाद सवांददाता